उत्‍तर प्रदेश राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था

उ० प्र० सरकार के अधीनस्थ स्वायतशासी संस्था

ग्रोआउट टेस्ट फार्म

ग्रोआउट टेस्ट का उद्देश्य

प्रमाणीकरण प्रक्रिया के अंतर्गत किसी लॉट की आनुवंशिक शुद्धता आंकलित करने एवं बीज लॉट निर्धारित मानकों के अनुरूप होने या न होने की पुष्टि किये जाने के उद्देश्य से ग्रो-आउट टेस्ट सम्पन्न किया जाता है।

ग्रोआउट टेस्ट फार्म स्थापित किये जाने की आवश्यकता

संस्था की बीज परीक्षण प्रयोगशालाओं में परीक्षण हेतु प्राप्त होने वाले अनेक न्यादर्शों में ʺपहचाने योग्य अन्य प्रजाति के बीजʺ कारक के परीक्षण के समय कुछ दानों की प्रजाति स्पष्ट नहीं हो पाती तथा इसके प्रति संदेह उत्पन्न हो जाता है। ऐसी स्थिति में सम्बन्धित न्यादर्श का ग्रोआउट टेस्ट सम्पन्न कराने की आवश्यकता होती है। अतः इन परीक्षणों के सम्पन्न कराने हेतु संस्था द्वारा ग्रोआउट फार्म की स्थापना किये जाने का निर्णय लिया गया।

स्थापना एवं परीक्षण प्रगति

संस्था द्वारा सर्व प्रथम एक ग्रोआउट फार्म धनौल्टी जनपद- टिहरी गढ़वाल में स्थापित किया गया जो प्रदेश विभाजन के परिणाम स्वरूप उत्तराखण्ड प्रदेश के अधीन हस्तांतरित हो गया है। संस्था द्वारा एक अन्य फार्म रहमानखेड़ा जनपद- लखनऊ में स्थापित किया गया जिस पर वर्ष 1997-98 से लगातार ग्रो-आउट परीक्षण सम्पन्न किये जा रहे हैं। इस केन्द्र पर सम्पन्न किये गये परीक्षणों की वर्षवार प्रगति नीचे तालिका में दिखायी जा रही है

ग्रो- आउट परीक्षण केन्द्र रहमानखेड़ा- लखनऊ पर सम्पन्न परीक्षणों का वर्षवार विवरण

क्रम संख्या वर्ष सम्पन्न परीक्षण
1 1997-98 101
2 1998-1999 27
3 1999-2000 66
4 2000-2001 47
5 2001-2002 78
6 2002-2003 57
7 2003-2004 27
8 2004-2005 38
9 2005-2006 33
10 2006-2007 24
11 2007-2008 40
12 2008-2009 26
13 2009-2010 49
14 2010-2011 37
15 2011-2012 37
16 2012-2013 54
17 2013-2014 65
18 2014-2015 65
19 2015-2016 36
20 2016-2017 32